Loan Schemes : ऋण योजनायें

राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक द्वारा केन्द्रीय सहकारी बैंक को आर्थिक रूप से सक्षम बनाने एवं लाभार्जन क्षमता में वृद्धि करने हेतू कृषि ऋणों के अतिरिक्त व्यक्तिगत सदस्यों को ऋण अग्रिम करने हेतू सभी प्रकार की योजनायें लागु की है ! इन योजनाओं से काश्तकारों के आलावा जिले के आमजन के आर्थिक विकास को बल दिया है! वर्तमान में बैंक निम्न योजनाओं के अंतर्गत ऋण सुविधा उपलब्ध है:-

अल्पकालीन फसली ऋण

  • उद्देश्य - फसल, उन्नत खाद-बीज, कीनाशक दवाईयों हेतु
  • पात्रता - कृषक के पास अपने नाम की कृषि भूमि हो।
  • ऋण सीमा - रू.1.50 लाख अधिकतम
  • ब्याज दर - 7 प्रतिशत (समय पर ऋण चुकौती पर  भारत सरकार द्वारा 3% एवं राज्य सरकार द्वारा 4% ब्याज सहायता अनुदान)
  • दस्तावेज - फोटो, जमाबन्दी, गिरदावरी, सिंचित भूमि का प्रमाण पत्र

मध्यकालीन कृषि ऋण

  • उद्देश्य - ट्रेक्टर, ट्राली, थ्रेसर व कृषि यंत्र, डेयरी विकास, लघु सिंचाई (नया कुंआ, कुआं गहरा, बोरवेल, ट्युबेल, फव्वारा सेट, बूंद-बूंद सिंचाई, डीजल व बिजली पम्पसेट लाईन) मुर्गी    पालन, पशुपालन, प्लांटेशन एवम् होर्टिकल्चर हेतु इकाई लागत अनुसार)
  • पात्रता - कृषक के पास अपने नाम की कृषि भूमि हो।
  • ऋण सीमा - परियोजना का 75 से 85 प्रतिशत (नाबार्ड की इकाई लागत अनुसार)
  • ब्याज दर - 12 प्रतिशत
  • दस्तावेज - फोटो, जमाबन्दी, गिरदावरी, भूमि का नक्शा, कोटेशन

कृषक मित्र ऋण योजना

  • उद्देश्य - कार्यक्षेत्र के बडे एवम् प्रगतिशील कृषको को सहकारी फसली साख से जोड़ना
  • पात्रता - कृषक के पास न्युनतम 4 एकड़ काश्त सिंचित भूमि हो
  • ऋण सीमा - 3.50 लाख अधिकतक
  • ब्याज दर - 7 प्रतिशत (समय पर ऋण चुकौती पर नियमानुसार ब्याज में छुट देय)
  • दस्तावेज - फोटो, जमाबन्दी, गिरदावरी, भूमि का नक्शा, सिंचित भूमि का प्रमाण पत्र

संयुक्त दायित्व समूहों को ऋण योजना

  • लघु/सीमान्त कृषक/किरायेदार कृषक/मौखिक पट्टेधारक कृषक जो कि साख से वंचित है को संयुक्त दायित्व समूह के अन्तर्गत बैंक साख से जोड़ना।    
  • संयुक्त दायित्व समूह के सदस्य आपसी सहमति से बचत करना।
  • बैंक द्वारा सदस्य के पास उपलब्ध भूमि पर बोई जाने वाली फसलों के आधार पर सदस्य की ऋण क्षमता का आकंलन।
  • समूह के सभी सदस्यों द्वारा संयुक्त एवं व्यक्तिगत दायित्व के आधार पर ऋण क्षमता का आकंलन।
  • समूह के सभी सदस्यों द्वारा संयुत एवं व्यक्तिगत दायित्व के आधार पर ऋण प्रपत्रों का निष्पादन।
  • प्रति व्यक्ति अधिकतम ऋण राशि 50000/- ब्याज दर - 12 प्रतिशत

कृषक संबल योजना

  • उद्देश्य - कृषि से सबंन्धित विभिन्न प्रयोजन हेतु।
  • पात्रता - कृषक के पास अपने नाम की कृषि भूमि हो।
  • ऋण सीमा - रू.20 लाख अधिकतम
  • ब्याज दर - 12 प्रतिशत
  • दस्तावेज - फोटो, जमाबन्दी, गिरदावरी, भूमि का नक्शा, सिंचित भूमि का प्रमाण पत्र, कृषि भूमि की मूल्यांकन रिपोर्ट।

सहकार किसान कल्याण योजना

  • ऋण के प्रयोजन - कृषि यंत्रीकरण, सिंचाई सांधन, बागवानी विकास, डेयरी विकास
  • पात्रता - बांसवाड़ा जिले का निवासी हो।, भार रहित स्वयं के स्वामित्व की कृषि भूमि हो।स्वयं काश्त करता हो।
  • ऋण सीमा - असिंचित भूमि-अधिकतम10.00 लाख रू., सिंचित भूमि-अधिकतम 20.00लाख रू. टर्म
  • ऋण और/अथवा केवल साख सीमा के रूप में-अधिकतम रू 5.00 लाख-एक वर्ष की अवधि के लिये।, ऋण सीमा- कृषि भूमि की डीएलसी दर का 70 प्रतिशत तक।
  • ब्याज दर - 11.50 प्रतिशत वार्षिक ब्याज दर।
  • ऋण का चुकार - टर्म ऋण - अधिकतम अवधि 9 वर्ष, साख सीमा - प्रति वर्ष साख सीमा का नवीनीकरण।
  • ऋण की सुरक्षा - भार रहित कृषि भूमि बैंक के पक्ष में रहन होगी।, एक सक्षम व्यक्ति की जमानत

सहकारी किसान क्रेडिट कार्ड योजना

  • सहकारी समितियों के सदस्यों को अल्पकालीन कृषि ऋण उपलब्ध कराने हेतु किसान कार्ड की सुविधा उपलब्ध है

स्वंय सहायता समूह ऋण योजना

  • स्वंय सहायता समूह ग्रामीण गरीबों के समरूप समूह है जो अपनी आय में से सबकी सहमति से तय की गई छोटी राशियों की बचत के लिये स्वैच्छिक रूप से बनायें जातें है तथा इससे समूह की सामान्य निधी (कार्पस) निर्मित होती है जिससे सदस्यों को उनकी उत्पादक व आकस्मिक ऋण जरूरतों की पूर्ति के लिये ऋण दिया जाता है।
  • उद्देश्य - दैनिक जरूरतों को पुरा करने, काम धन्धा शुरू करने व अन्य व्यवसायिक गतिविधियोंहेतु।
  • पात्रता - 6 माह तक निरन्तर अमानत संग्रहण व नियमित बैठको का आयोजन।
  • ऋण सीमा - बैंक में अमानतों का चार से दस गुना तक।
  • ब्याज दर - 12 प्रतिशत
  • दस्तावेज - ग्रुप फोटो, इकरार नामा, ऋण अनुबन्ध इत्यादि।

कम्पोजिट ऋण

  • उद्देश्य - दस्तकार, शिल्पकार, लघु, कुटीर एवं ग्रामीण उद्योग एवं सेवा क्षैत्र इकाई हेतु।
  • पात्रता - शिल्पी, दस्तकार व लघु उद्यमी
  • ऋण सीमा - रू.2 लाख अधिकतम
  • ब्याज दर - 12 प्रतिशत
  • ऋण अवधि - 5 वर्ष अधिकतम
  • मार्जिन - 15 से 25 प्रतिशत
  • दस्तावेज - फोटो, जमाबन्दी, गिरदावरी, सिंचित भूमि का प्रमाण पत्र

इन्टीग्रेटेड ऋण

  • उद्देश्य - औद्योगिक व सेवा क्षेत्र इकाई, बडे़ उद्योग, होटल, मोटल, क्लिनिक एवं खादी व ग्रामीण उद्योग की स्कीमों हेतु।
  • पात्रता - उद्यमी, डॉक्टर इत्यादि
  • ऋण सीमा - 25 लाख अधिकतम
  • ब्याज दर - 12 प्रतिशत
  • ऋण अवधि - 15 वर्ष अधिकतम
  • मार्जिन - 15 से 25 प्रतिशत

सहकार स्वरोजगार क्रेडिट कार्ड योजना

  • उद्देश्य - रोजगारोन्मुखी विभिन्न प्रयोजनार्थ
  • पात्रता - व्यक्ति, लघु उद्यमी
  • ऋण सीमा - रू.2 लाख अधिकतम
  • ब्याज दर - 12 प्रतिशत
  • ऋण अवधि - 5 वर्ष
  • मार्जिन - 25 प्रतिशत
  • दस्तावेज - फोटो, बन्धक हेतु स्थाई सम्पत्ति, दो जमानतदार, कोटेशन, परियोजना रिपोर्ट आदि।

लघु भारवाहक परिवहन ऋण

  • उद्देश्य - बस, ट्रक, जीप, कार, टैक्सी, ऑटो रिक्शा व्यवसायिक प्रयोजनार्थ
  • पात्रता - व्यक्ति, फर्म
  • ऋण सीमा - रू.20 लाख अधिकतम
  • ब्याज दर - 11 प्रतिशत
  • ऋण अवधि - 3 से 7 वर्ष
  • मार्जिन - 20 से 25 प्रतिशत
  • दस्तावेज - फोटो, बन्धक हेतु स्थाई सम्पत्ति, दो जमानतदार, कोटेशन, आयकर रिटर्न

वेतनभोगी व व्यवसायिओं के लिये ऋण

  • उद्देश्य - कार, वैन व जीप हेतु
  • पात्रता - वेतनभोगी स्थाई कर्मचारी, चिकित्सक, इंजिनियर, सी.ए., प्रोफेसर आदि
  • ऋण सीमा - रू.10 लाख अधिकतम
  • ब्याज दर - 11 प्रतिशत
  • ऋण अवधि - 3 से 7 वर्ष
  • मार्जिन - 10 प्रतिशत
  • दस्तावेज - फोटो, दो जमानतदार, कोटेशन, ड्राईविंग लाइसेन्स, वेतन प्रमाण पत्र इत्यादि।

पर्सनल लोन

  • उद्देश्य - सभी प्रकार के व्यक्तिगत खर्च हेतु
  • पात्रता - राज्य/केन्द्रीय सरकार/कम्पनी/बैंक इत्यादि के स्थाई कर्मचारी
  • ऋण राशि - 5 लाख अधिकतम (मासिक वेतन का 8 गुना या 5 लाख जो भी कम हो)
  • ब्याज दर - 15 प्रतिशत
  • ऋण अवधि - 5 वर्ष
  • मार्जिन - शुन्य
  • दस्तावेज - फोटो, उत्तर दिनांकित चैक, दो जमानतदार नियोक्ता का अंडरटेकिंग

व्यवसायिक साख सीमा (व्यापारियों हेतू)

  •  उद्देश्य - व्यापारिक आवश्यकताओं की पूर्ति हेतु
  • पात्रता - निजी व्यापारी, फर्म, साझेदारी फर्म
  • ऋण सीमा - (दृष्टि बंधक/बंधक) रू.25 लाख अधिकतम
  • ब्याज दर - 13 प्रतिशत
  • मार्जिन - 40 प्रतिशत व 25 प्रतिशत
  • दस्तावेज - फोटो, फर्म के वित्तिय लेखे, बंधक हेतु स्थाई सम्पत्ति, फर्म का रजिस्ट्रेशन, साझेदारी की दशा में विलेख, दो जमानतदार, दुकान किराया नामा।

अचल संपत्ति के विरुद्ध ऋण

  • उद्देश्य - किसी भी आकस्मिक जरूरत के लिए
  • पात्रता - स्थाई वेतनभोगी कर्मचारी/विधिक व्यक्ति
  • ब्याज दर - 12 प्रतिशत
  • ऋण राशि - 15 लाख अधिकतम
  • ऋण अवधि - 5 वर्ष
  • पुर्न भुगतान क्षमता - आय के अधितम 40 प्रतिशत के बराबर
  • सिक्युरिटी - ऋण राशि की दुगनी कोलेटरल सिक्युरिटी आवश्यक
  • दस्तावेज - फोटो, पहचान व निवास का प्रमाण पत्र, नोडयुल, बंधक हेतु स्थाई सम्पति, एक जमानतदार, वेतन प्रमाण पत्र, आयकर विवरणी, आयु का प्रमाण पत्र, बैंक खाते की नकल, वेल्युशन रिपोर्ट अन्य पत्रादी आवश्यकतानुसार।

विकलांग विष्वास योजना

  • निशक्तजनो के लिए अधिकतम रूपया 1.00 लाख ऋण/अवधि 3 से 5 वर्ष तक। ब्याज दर - 12 प्रतिशत। समाज कल्याण विभाग से 30 प्रतिशत का अनुदान।

जन-मंगल आवास ऋण योजना

  • उद्देश्य - मकान क्रय, निर्माण, प्लाट क्रय व्यवसायिक भवन तथा मकान में परिवर्तन/परिवर्तन हेतु/अन्य संस्थाओं से लिये गये ऋण के चुकारे हेतु।
  • पात्रता - वेतनभोगी कर्मचारी, व्यवसायी
  • ऋण सीमा - 15 लाख अधिकतम (न्युनतम 1 लाख, मरम्मत हेतु - 2 लाख अधिकतम)
  • ब्याज दर - 11 प्रतिशत
  • ऋण अवधि - 15 वर्ष अधिकतम
  • मार्जिन - 20 से 25 प्रतिशत
  • ऋण क्षमता - ऋण का पुर्नभुगतान क्षमता आय के 30 प्रतिशत के बराबर तक सिक्युरिटी - भूखण्ड/भवन के मूल दस्तावेज बंधक
  • दस्तावेज - फोटो, पहचान व निवास का प्रमाण पत्र, नोडयुल, स्थाई सम्पति के मूल दस्तावेज, वेतन प्रमाण पत्र, आयकर रिर्टन व पेन कार्ड प्रति, निर्माण लागत का तकनीमा, नक्शा तथा एक जमानतदार, निर्माण की स्वीकृति पत्र, बैंक खाते की नकल अन्य पत्रादी आवश्यकतानुसार।

ज्ञान सागर ऋण योजना

  • उद्देश्य - भारत व विदेश में उच्च तकनिकी/व्यवसायिक शिक्षा के लिए योग्य प्रतिभावन छात्रों को आर्थिक सहयोग हेतु।
  • पात्रता - छात्र/छात्रा जिनका चयन मेरिट/प्रवेश परीक्षा से हुआ हो।
  • ऋण राशि - भारत में शिक्षा हेतु - अधिकतम रूपया 6.00 लाख, विदेश में शिक्षा हेतु - अधिकतम रूपया 10.00 लाख
  • ब्याज दर - 12 प्रतिशत
  • ऋण अवधि - 5 वर्ष
  • मार्जिन - 10 प्रतिशत
  • दस्तावेज - फोटो, पहचान व निवास का प्रमाण पत्र, नोडयुल, जन्मतिथि प्रमाण, बधंक हेतु स्थाई सम्पति, दो जमानतदार, प्रवेश का प्रमाण पत्र, फीस का एस्टीमेन्ट, वेतन प्रमाण पत्र, बैंक खाते की नकल, शैक्षिक योग्यता की प्रतिया, आयकर रिर्टन असेसमेन्ट आदेश, पेन कार्ड प्रति, नियोक्ता का गारन्टी पत्र अन्य पत्रादी आवश्यकतानुसार।