Search for:
Latest Posts
दी बांसवाड़ा सैन्ट्रल को-ऑपरेटिव बैंक लि.की 60वीं वार्षिक साधारण सभा का आयोजन

दी बांसवाड़ा सैन्ट्रल को-ऑपरेटिव बैंक लि.की 60वीं वार्षिक साधारण सभा का आयोजन
बांसवाड़ा, 5 फरवरी। दी बांसवाड़ा सेन्ट्रल को-ऑपरेटिव बैंक की वित्तीय वर्ष-2020-21 68वीं वार्षिक साधारण सभा की बैठक वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से शनिवार को जिला कलक्टर एवं बैंक प्रशासक अंकित कुमार सिंह के निर्देशानुसार अतिरिक्त जिला कलक्टर नरेश बुनकर की अध्यक्षता में आयोजित हुई, जिसमें बैंक की सम्बद्ध समितियों के अध्यक्षों ने सम्बन्धित पंचायत समिति के वीडियो कॉन्फ्रेंस कक्ष से साधारण सभा में भाग लिया गया।
आरंभ में जिला कलक्टर एवं बैंक प्रशासक द्वारा वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया। वित्तीय वर्ष 2020-21 में बैंक द्वारा चहुंमुखी प्रगति दर्ज की गई। बैंक की हिस्सा राशि 26.94 करोड,़ कोष 58.35 करोड़, अमानते 330.16 करोड़ एवं बकाया ऋण 247.55 करोड़ रहे। बैंक को राशि रू. 1.11 करोड़ रू का शुद्ध लाभ हुआ। बैंक का ऑडिट वर्गीकरण ‘‘अ’’ श्रेणी में दर्ज किया गया ।
बैंक द्वारा समस्त नवीन बैंकिंग सुविधाएंे अपने ग्राहको को दी जा रही है। बैंक द्वारा ऑनलाईन माध्यम से अल्पकालीन फसली ऋण वितरण किया जा रहा है। जिसमें कृषकंों को आधार सत्यापन के पश्चात ऋण प्राप्त होता है। वर्ष 2020-21 में कुल 65321 कृषको को 275 करोड़ से अधिक का ब्याज मुक्त फसली ऋण वितरण किया गया।
इस अवसवर पर अध्यक्ष अनुमति से बैंक प्रबन्ध निदेशक अनिमेष पुरोहित द्वारा एजेण्डावार साधारण सभा की कार्यवाही प्रारंभ की गई। गत आम सभा की कार्यवाही की पुष्टि वर्ष 2020-21 के अंकेक्षित संतुलन चित्र एवं लाभ हानि खातो का अनुमोदन, ऑडिट आक्षेप पूर्ति प्रतिवेदन की स्वीकृति, बजट की पुष्ठि, साख सीमा स्वीकृति, लाभांष वितरण एवं अध्यक्ष महोदय की अनुमति से अन्य आवश्यक बिन्दुओं पर ऐजेण्डावार चर्चाकर सदन द्वारा अनुमोदन किया गया। इसके अतिरिक्त बैंक कि ऑडिट हेतु सांविधिक अंकेक्षक नियुक्त करने बाबत बैंक प्रबन्ध निदेशक को अधिकृत किया गया।
वर्च्युअल माध्यम से आयोजित इस बैठक में 142 सदस्यों की उपस्थिति रही। अतिथियों का बैंक प्रबन्ध निदेशक द्वारा स्वागत किया गया। सहकारी समितियों के उप रजिस्ट्रार परेश पण्ड्या, कृषि विभाग के उप निदेशक दिलीप सिंह एवं बांसवाडा केवीएसएस के कमल कुमार बाथवी ने भी बैठक में भाग लिया।
साधारण सभा की कार्यवाही के अनुमोदन के पश्चात सदस्यों द्वारा अपने सुझाव/मांगे रखी गई। रविन्द्र पारगी, हकरिया भाई, भूरालाल, सुखलाल टेलर, राजेन्द्र पंचाल, आजम खां, मणिलाल गुर्जर, योगेश भट्ट, केेरंेंग पटेल, भरत व्यास, नाथजी, उकार सिंह, भंवरलाल, तोलसिंह, मगनलाल, विनोद जोशी, सेवालाल , योगेश द्विवेदी, आनन्दीलाल, भुपेन्द्र कुमार, देवीलाल, हरिशंकर ठाकुर, जगदीश कटारा, मगनलाल मईडा आदि ने अपने बहुमूल्य विचार रखे जिसमें खाद की समस्या, मक्का खरीद केन्द्र खोलने, कर्मचारियों की भर्ती, पीडीएस का कार्य लेम्पस को देना, छोटी सरवन एवं गनोडा में शाखा खोलना, फसली बीमे का कृषकों को लाभ देना, पेण्ंिडग अवधिपार कृषकांे को ऋण वितरण करना आदि प्रमुख रहे।
अतिरिक्त जिला कलक्टर एवं बैठक के अध्यक्ष नरेश बुनकर द्वारा वक्ताओं के सुझाव एवं समस्याओं को ध्यान से सुनकर आवश्यक निर्देश प्रदान किये एवं खाद समस्या के सम्बन्ध में जांच करने एवं आने वाले मौसम चक्र में इस प्रकार की समस्या से बचने बाबत आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान कियें।
अन्त में बैंक प्रबन्ध निदेशक अनिमेष पुरोहित ने सभी सहभागियों का धन्यवाद ज्ञापित किया।
–00–
फोटो- को-ऑपरेटिव बैंक
–00–

We work in partnership with all the major technology solutions

There are many variations of passages of lorem Ipsum available, but the majority